Site icon Anunaad

होली है ……

Advertisements

कल हम जब दोस्तों की टोली संग होली मनाएंगे,
बहाने से किसी फिर तेरी गली के चक्कर लगाएँगे।

इशारे को समझना कि तेरी गली में हम खूब शोर मचाएँगे,
चले आना छत पर कि तुझे देखकर ही हम होली मनाएँगे।

हिम्मत तो इतनी नही कि तुझे हम रंग एक भी लगा पाएँगे,
तुम छत से चलाना पिचकारी, हम तेरे रंग में और रंग जाएँगें।

होली वाला इश्क़…
या
इश्क़ वाली होली…

दोनो मुबारक हो।

Skip to toolbar