Site icon Anunaad

रोका भी नही…

Advertisements

रोका भी नही
टोका भी नही
छोड़ गए हमको और
सोचा भी नही ।

बोला भी नही
जताया भी नही
हमने बढ़ाया हाथ, उन्होंने,
थामा भी नही ।

इसीलिए मैं
रोया भी नही
जागा भी नही
ख़त्म कर दी सारी यादें, किसी एक को,
पिरोया भी नही।

Skip to toolbar