Posted in Uncategorized

main aur mera kamra (dedicated to my friend cheeku )

देखो न ये मेरा कमरा है,
कमरा नहीं, ये मेरा सपना है
मेरे मन का एक कोना है
तुम्हे ये मजाक लगेगा
तुम मेरी हंसी भी उड़ाओगे
पर देखो न ये मेरा कमरा है………

 मैं इसमें खुद को महसूस करती हूँ
देखो इन दीवारों को
ये ईंट या पत्थर नहीं है
भावनाएं है मेरी
जिनकी परतों से बनी है ये,
यहाँ मैं सपने बुनती हूँ
अपनी दुनिया के
प्लीज़  देखो ना, ये मेरा कमरा है……….

ये जो खिड़कियाँ हैं
आँखें हैं मेरी
यहाँ से तुम्हें दुनिया कुछ अलग सी दिखेगी
इसमें तुम मुझे महसूस करोगे
कुछ अजीब सा लगेगा
पर ये मेरी दुनिया है………
अरे…… देखो ना ये मेरा कमरा है………..

ये है मेरी बालकनी
यहाँ से सब दिखता है
हर  एक चीज, लगभग सब कुछ
लेकिन आप केवल देख सकते हैं
महसूस कर सकते हैं,पा नहीं सकते
ये एक सच कहता है
जीवन सत्य, कटु सत्य
कि हम चाहते तो बहुत कुछ हैं
पर सब संभव नहीं
फिर भी मैं खुश हूँ
क्यूंकि ये मेरा कमरा है,
देखो ना ये मेरा कमरा है……………….